अम्बेडकर विश्वविद्यालय आगरा के खंदारी स्थित संस्थान में एमबीबीएस की परीक्षा से 10 मुन्ना भाई पकड़े गए।

 

आगरा: आज मंगलवार को MBBS-1 की परीक्षा में एक नकलची को पकड़ा गया, यह मामला गोपनीय सूचना के आधार पर टीम ने छापामार कार्रवाई की। ये परीक्षा खंदारी स्थित विश्वविद्यालय के संस्थान में हो रही थी।

खंदारी स्थित डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय के फार्मेसी विभाग में एमबीबीएस थर्ड प्रोफेशनल नेत्र विज्ञान की परीक्षा में चल रही थी। ये परीक्षा एफएच मेडिकल कॉलेज एत्मादपुर के छात्रों की थी। पेपर बांट दिया गया था और छात्र अपना पेपर कर रहे थे। सूत्र बताते हैं कि फोन पर सूचना मिली थी परीक्षा में नकल कराई जा रही है।

 

इसके बाद विश्वविद्यालय प्रबंधन ने गोपनीय तरीके से टीम गठित की थी। मंगलवार को परीक्षा के दौरान टीम ने खंदारी कैंपस में परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों की पड़ताल की, जिसमें दस विद्यार्थियों से कुछ ऐसा सामान मिला कि सभी हैरान रह गए। छात्रों के पास इलेक्ट्रॉनिक जैसी कुछ डिवाइस मिली, जो कान में लगी रखी थी।

 

कक्ष से कुल 10 मुन्ना भाई पकड़े गए, जिनमें से एक विद्यार्थी पर दो डिवाइस पकड़ी गईं। विश्वविद्यालय में इतनी हाईफाई तरीके से पहली बार नकल पकड़ी गई है। सूत्र बताते हैं कि ताबीज और काले धामे में सिम और तार लगे थे और कान में ब्लूटूथ था।

 

इन छात्रों को बाहर से बोलकर नकल कराई जा रही थी। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पुलिस अधिकारी पहुंच गए और उन्होंने छानबीन शुरू की। इन दस छात्रों के खिलाफ मुकदमा लिखाने की प्रक्रिया चल रही है। वहीं बाकी पेपर को पूरा कराया गया है। 

 

पुलिस ने नकल कराने वालों की खंदारी कैंपस के बाहर तलाश की लेकिन किसी का कोई सुराग नहीं लग सका। बता दें कि आगरा में इससे पहले पुलिस भर्ती परीक्षा 2018-19 में भी सॉल्वर गैंग पकड़ा जा चुका है। वहीं शिक्षक भर्ती परीक्षा में भी सॉल्वर गैंग पकड़ में आया था, जिसकी जांच चल रही है। तकरीबन सौ मुन्नाभाई अब तक विभिन्न परीक्षाओं में पकड़े जा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Accepted file types: jpg, pdf, png, mp4, Max. file size: 100 MB.