आगरा: बहू की प्रार्थना : बलात्कारी व दहेज लोभी ससुराल वालों से बचाओ…

हमारे समाज की संरचना कितनी सड़ती जा रही है इसका एक उदाहरण ताज नगरी आगरा में देखने को मिला है. एक विवाहिता को कम दहेज लाने पर परिवार इस तरह प्रताड़ित करने लगा कि लालच में अंधा होकर अपनी बहु को उसके जेठ की हवस का शिकार बनवाने लगा. अब इस विवाहिता ने सीएम योगी आदित्यनाथ से इन दहेज लोभियों से खुद को बचाने की गुहार लगाई है.

 

आगरा के आवास विकास बोदला थाना जगदीशपुरा की रहने वाली टिंकल उर्फ स्नेहा ने एसएसपी आगरा को पत्र लिखकर एवं सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए अपना वीडियो जारी कर अपनी वेदना प्रकट की है.

पीड़िता ने कहा है कि 25 नवंबर 2020 को उसकी शादी गोपालपुरा, थाना शमशाबाद जिला आगरा के रहने वाले अनुराग से हुई थी. पीड़िता के पिता ने अपनी हैसियत से बढ़कर साढ़े पांच लाख रुपये नकद, ज्वेलरी व गृहस्थी के अन्य सामान दहेज में दिया था. ससुराल वाले इससे संतुष्ट नहीं थें और लगातार कम दहेज की बात कह कर उसका उत्पीड़न किया करते थें.

पीड़िता को अक्सर घर में गंदी गंदी गालियां दी जाती थी और उसे भूखा प्यासा कमरे में बंद कर दिया जाता था. ससुराल वालों का कहना था कि हमें दहेज बहुत कम मिला है. हमें दहेज में कार चाहिए. पीड़िता के पिता इसे देने में असमर्थ थें.

दहेज के लालच में अंधे हो चुके ससुराल वालों ने कुछ दिनों बाद पीड़िता का शारीरिक शोषण शुरु करवा दिया. पीड़िता की चाची सास उसे हर शनिवार को जबरन एक लड्डू खिलाती और कहती कि इसे खा ले. इसे खाने से तुझे लड़का पैदा होगा. लड्डू खाते ही पीड़िता नशे में हो जाती और इसके बाद उसका जेठ सचिन उर्फ भंडारी उसके साथ गलत काम करता. शोषण के इस खेल में पूरा ससुराल शामिल था. पीड़िता जब भी विरोध करती तो उसके कहा जाता कि पहले तू अपने बाप से कार मांग, फिर ये सब नहीं होगा. इतना ही नहीं पीड़िता अपने साथ हो रही इस जबरदस्ती का विरोध करती तो उसके जेठ और ससुर उसे रिवॉल्वर दिखा कर आंतकित किया करते थें.

पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी में मनीष कुमार वर्मा पिता सुरेंद्र कुमार वर्मा बिचौलिया था. वह आए दिन उसके ससुराल में आता और कहता कि उसने उनके बेटे की शादी कराई है, इसके एवज में मुझे एक लाख रुपये दो. वह जब भी पैसे मांगने आता, पीड़िता को बाल खींच खींच कर बुरी तरह मारा पीटा जाता.

22 जून 2021 को इस जुल्म की इंतहा हो गई जब ससुराल वालों ने उसे घर से बाहर निकाल दिया और कहा कि जब तक तू अपने बाप से कार मांग कर नहीं लाएगी, तब तक इस घर में मत आना. बदहवासी में पीड़िता अपने पिता के घर पहुंची. पीड़िता ने अपने ससुराल वालों के विरुद्ध उचित कार्रवाई एवं इंसाफ दिलाने की मांग शासन एवं प्रशासन से की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Accepted file types: jpg, pdf, png, mp4, Max. file size: 100 MB.