डीसी ने विकास प्रोजेक्टों को समय पर पूरा करने के लिए विभागों के वीकली टारगेट किए निर्धारित

जालंधर विशाल मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में राज्य सरकार की तरफ से चलाई जा रही लोक कल्याणकारी योजनाओं को समय पर पूरा करने को यकीनी बनाने के लिए डिप्टी कमिश्ननर घनश्याम थोरी ने शुक्रवार को अलग-अलग विभागों के साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित किए हैं, जिनका वे स्वयं जायज़ा लेंगे। ज़िला प्रशासकीय कांप्लेक्स में अलग-अलग विभागों के साथ समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को चल रहे विकास प्रोजैक्टों को एक महीने के अंदर पूरा करने और विकास कार्यों के लिए प्राप्त हुए फंड्स के प्रयोग सर्टिफिकेट (यू.सीज़.) जमा करवाने के निर्देश दिए।उन्होंने आधिकारियों को पंचायती फंड्स, वित्त कमीशन के फंड्स और ग्रामीण विकास फंड्स के तहत चल रहे प्रोजैक्टों को एक महीने के अंदर पूरा किये जाने के निर्देश दिए और कहा कि वह इन प्रोजैक्टों की प्रगति की हर सप्ताह समीक्षा करेंगे। बीडीपीओज़, ईओज़ और अन्य फील्ड आधिकारियों के साथ मीटिंग करते हुए डिप्टी कमिश्ननर ने विभागों के लक्ष्य निर्धारित किए ताकि पेंडिंग कार्यों को समयबद्ध तरीके से पूरा किया जा सके। थोरी ने बीडीपीओज़ को महात्मा गांधी नैशनल रोज़गार गारंटी एक्ट (मनरेगा) के अंतर्गत कार्यों में तेज़ी लाने के निर्देश दिए, जिससे लोगों की मुश्किलों को कम किया जा सके विशेषकर कोविड के दौर में गाँवों में लोगों को रोजगार मुहैया करवाया जा सके।उन्होंने कहा कि मगनरेगा अधीन कार्यों में तेज़ी से न सिर्फ़ ग्रामीण क्षेत्रों के विकास को उत्साह मिलेगा बल्कि ग्रामीण मज़दूरों को रोज़गार के अवसर प्राप्त होंगे। इससे पहले राजस्व विभाग के साथ एक मीटिंग में डिप्टी कमिश्नर ने आधिकारियों को चालू वित्तीय वर्ष के अंत से पहले वित्तीय वसूली संबंधी निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने की निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस काम में किसी भी तरह की ढील को सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्तियों की निरंतर निगरानी की जाए।डिप्टी कमिश्नर ने अलग-अलग विभागों के आधिकारियों को कहा कि वह एक तरफ़ किसानों को पराली जलाने के बुरे प्रभावों के बारे में जागरूक करने की रणनीति अपनाते हुए जिले में पराली जलाने के मामलों पर नकेल डालने के लिए तनदेही के साथ काम करें, दूसरी तरफ़ पराली जलाने के मामलों में सख़्त कार्यवाही भी करें।इस दौरान डिप्टी कमिशनर की तरफ से गाँव में छप्पड़ों के नवीनीकरण, जल जीवन मिशन, डैपो, बडी प्रोगराम, नशा रोकने के उपाय लागू करने, नशा छुड़ाओ और पुनवास प्रोगराम, कृषि और किसान भलाई योजनाओं, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं, पशु पालन और डेयरी विकास योजनाओं, स्वास्थ्य संभाल सेवाओं, कोरोना वायरस विरुद्ध जंग, शैक्षिक योजनाओं, महिला सशक्तीकरण योजनाओं, मिशऩ तंदरुस्त पंजाब सहित अलग अलग योजनाओं की प्रगति का जायज़ा लिया गया। इस अवसर पर एडीसी (डी) विशेष सारंगल, एडीसी (जी) जसबीर सिंह, एसडीएम राहुल सिंधु, एसडीएम डा. जैइन्दर सिंह, एसडीएम गौतम जैन और अन्य अधिकारी भी शामल थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Accepted file types: jpg, pdf, png, mp4, Max. file size: 100 MB.