तनख्वाह लिए बिना भाग रहे उत्तर भारतीय, गुजरात के उद्योग-धंधों की कमर टूटी

0
310

गुजरात में हमले और राज्य छोड़कर जाने की मिल रही धम‍कियों के चलते उत्तर भारतीयों में खौफ है और वह अपना सबकुछ छोड़कर राज्य छोड़ने को मजबूर हैं. उत्तर भारतीयों के पलायन ने गुजरात के उद्योग-धंधों की कमर तोड़कर रख दी है. पलायन का सबसे ज्यादा असर अहमदाबाद , महेसाना और साबरकांठा की इंडस्ट्रीज पर हो रहा है.

अहमदाबाद के वटवा जीआईडीसी में कई वर्षों से लोहे के मशीन बनाने वाली कंपनी में करीब 50 से ज्यादा लोग काम करते हैं. जि‍समें सभी मजदूर यूपी और बिहार से हैं.

पिछले तीन-चार दिनों में बाहरी लोगों को धमकियां मिलने के बाद से इस फैक्ट्री में महज पांच मजदूर काम करने आए हैं. जि‍सकी वजह से फैक्ट्री मालिक काफी परेशान हैं.

फैक्ट्री मालिक का कहना है कि आमतौर पर 8-9 तारीख को मजदूरों को तनख्वाह दी जाती है, लेकिन जि‍स तरह ये बातें फैली कोई मजदूर अपनी तनख्वाह लेने तक नहीं रुका.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here