आगरा के तीन दोस्त जरूरतमंद को मास्क,सैनिटाइजर बांट रहे है,लोगों को गाइड लाइन का पालन करने हेतु प्रेरित कर रहे हैं।

0
40

Source:amarujala.com

आगरा:कोरोना से लड़ने के लिए अब ताजनगरी में निजी स्तर पर प्रयास किये जा रहे है,जिससे की हमारे कोरोना योद्धाओं का मनोबल बना रहे और उन्हें एक संदेश दिया जा रहा कि इस महामारी में पूरा देश एकजुट हो कर इसका सामना कर रहा है। आगरा के आवास विकास कॉलोनी के तीन दोस्त ने कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता फैला रहे हैं। उन्होंने अपने आसपास के क्षेत्र में फ्रंटलाइन वर्कर्स और कमजोर लोगों को मास्क, सैनिटाइजर मुहैया कराने का बीड़ा उठाया है। बस्तियों में लोगों को गाइड लाइन का पालन करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

आपस में पैसे किए एकत्र
आवास विकास में जूता फैक्ट्री चलाने वाले सुनील कुमार ने बताया कि मई की शुरुआत में उन्होंने यह प्रयास शुरू किया। अपने दो साथियों रोहित वर्मा और जितेंद्र कुमार को भी साथ लिया। कारखाने बंद हो चुके हैं। उन्होंने आपस में पैसे एकत्र कर मास्क और सैनिटाइजर खरीदे। इन्हें छोटे पैकेटों में रखकर ट्रैफिक ड्यूटी में पुलिसकर्मियों को बांटना शुरू किया।

इसके बाद अन्य फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी मास्क व सैनिटाइजर बांटे। अब वह बस्तियों में लोगों को मास्क व सैनिटाइजर देकर जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनका मकसद केवल गाइड लाइन के प्रति लोगों को संजीदा बनाना है। इसे हल्के में लेने के कारण ही दूसरी लहर में इतनी मौतें हुईं।

पांच दिन में 48 मौतें दर्ज, 24 घंटे में मिले 49 मरीज
गौरतलब है कि आगरा में कोरोना की दूसरी लहर थमने के बाद अब संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़े सामने आ रहे हैं। स्थिति चिंताजनक है। क्योकि एक तरफ नए मरीज घट रहे हैं, जबकि मृतक संख्या थमने का नाम नहीं ले रही। रविवार को 49 नए मरीज मिले हैं। 11 नए समेत पांच दिन में 48 मरीजों की मौत का ब्योरा पोर्टल पर दर्ज हुआ है।

अप्रैल में आई संक्रमण की दूसरी लहर बड़े पैमाने पर लोगों को निगल गई। उस समय अस्पतालों से लेकर श्मशान तक शवों से पटे रहे। उनमें से कई संक्रमितों की मौत पोर्टल पर अब दर्ज हो रही है। रविवार को 11 मृतकों का ब्योरा सरकारी पोर्टल पर दर्ज होने से अब कुल मृतक संख्या 374 हो गई है। पिछले पांच दिनों में 48 मरीजों की मौत का ब्योरा दर्ज किया है। 24 घंटे में 8109 लोगों की जांच में महज 49 नए मरीज मिले हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 25363 हो गई है। जिनमें 24137 मरीज ठीक हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here